BREAKING NEWS

प्रदेश की कमलनाथ सरकार वादा खिलाफ ी की पराकाष्ठा करने वाली सरकार : कृष्णा गौर

प्रदेश की कमलनाथ सरकार वादा खिलाफ ी की पराकाष्ठा करने वाली सरकार : कृष्णा गौर
किसान आक्रोश आंदोलन के तहत किसानों ने जलाई बिजली बिलो की होली बैतूल। प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा किसानो के साथ की गई वादा खिलाफ ी के विरोध में भाजपा के प्रदेश व्यापी किसान आक्रोश आंदोलन के तहत सोमवार को जिला मुख्यालय बैतूल में प्रदेश मंत्री एवं विधायक कृष्णा गौर, प्रदेश कोषाध्यक्ष हेमंत खंडेलवाल के नेतृत्व में जिले भर से आए सैकडो किसानो ने खराब फसल लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचकर आक्रोश व्यक्त किया और बिजली बिलो की होली जलाई। कलेक्ट्रेट पहुंचे किसानो एवं भाजपा कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प के बाद पार्टी के प्रतिनिधि मंडल ने कृष्णा गौर के नेतृत्व में कलेक्टर बैतूल को राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। इसके पहले शिवाजी आडिटोरियम में एक सभा हुई। सभा को संबोधित करते हुए श्रीमती कृष्णा गौर ने प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर जमकर हमला किया। उन्होंने कांग्रेस सरकार को वादा खिलाफ ी की पराकाष्ठा करने वाली सरकार बताते हुए कहा कि इस सरकार ने चुनाव में किए एक भी वादे नही निभाएं। श्रीमती गौर ने कहा कि प्रदेश की भोली भाली जनता को गुमराह कर और झूठे वादे कर कांग्रेस ने प्रदेश में सरकार बनाई है। उन्होंने कहा कि आज प्रदेष का किसान हाहाकार कर रहा है, आत्महत्या कर रहा है लेकिन मुख्यमंत्री सहित उनके सभी मंत्री मस्त है। श्रीमती गौर ने कहा कि कमलनाथ सरकार के झूठे वादे में आकर किसानो ने कर्ज जमा नहीं किया जिसके चलते उन्हे डिफ ाल्टर कर दिया गया अब वे खाद-बीज के लिए भी मोहताज है। बाढ़, अतिवर्षा की बात करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने मुआवजा देना तो दूर आज तक सर्वे कराना भी आवश्यक नहीं समझा। कांग्रेस द्वारा बिजली बिल हाफ करने के वादे पर उन्होंने कहा कि इस सरकार के राज में बिजली ही साफ हो गई। किसानो को अनाप-शनाप बिल दिए जा रहे है। श्रीमती गौर ने आक्रोश आंदोलन के माध्यम से प्रदेश सरकार को चेतावनी दी कि अब जनता, किसान जागरूक हो गई है और इस अमानवीय, असंवेदनशील सरकार की ईट से ईट बजा देगी। सभा को संबोधित करते हुए प्रदेष कोषाध्यक्ष एवं पूर्व सांसद हेमंत खंडेलवाल ने कहा कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार को रेत माफि या अपराधियों की चिंता है लेकिन किसानों की नहीं है। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश के किसानो के आंसू पोछने वाला कोई नहीं है। उन्होंने याद दिलाया कि जब प्रदेश में शिवराज सरकार थी तब प्राकृतिक आपदा के समय मुख्यमंत्री सहित पूरी केबीनेट किसानों के खेत में पहुंच जाती थी। यहां तो कमलनाथ वल्लभ भवन से बाहर नही निकलते है। श्री खंडेलवाल ने कहा कि भाजपा किसानो को हक दिलाने के लिए लडाई लडेगी। विधायक डा.योगेश पंडाग्रे ने कहा कि जनता से झूठ बोलकर कांग्रेस ने प्रदेश की सत्ता हथियाई है। ये पहली सरकार होगी जिसके दस माह के कार्यकाल में ही आक्रोश पैदा हो गया। डॉ.पंडाग्रे ने कहा कमलनाथ ने किसानो की छोड़ो अपने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के वचनो की भी लाज नहीं रखी। पूर्व सांसद सुभाष आहूजा ने कहा कि ये किसानो के ऑसू पोछने वाली सरकार नही है। उन्होने कहा कि आज किसान संकट में है। इसलिए उनकी यह लडाई भाजपा लड़ेगी और उन्हे न्याय दिलाएगी। सभा को सतीष बडोनिया, भगवानसिंह ,मंसू चौरे ने भी संबोधित किया। सभा का संचालन जिला पंचायत उपााध्यक्ष नरेश फ ाटे ने किया। ये रहे मंचासीन भाजपा के किसान आक्रोश आंदोलन के तहत आयोजित सभा में राष्ट्रीय मंत्री पूर्व सासंद ज्योति धुर्वे, भाजपा जिलाध्यक्ष वसंत बाबा माकोडे,, जिला पंचायत अध्यक्ष सूरजलाल जावलकर,राज्य महिला आयोग की पूर्व सदस्य गंगा उइके, पूर्व संसदीय सचिव रामजीलाल उइके, रोजगार बोर्ड निर्माण के पूर्व अध्यक्ष हेमंत देशमुख, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अनिल सिंह कुशवाह, जितेन्द्र कपूर, पूर्व विधायक महेन्द्रसिंह चौहान, गीता उइके,, वरिष्ठ नेता रमेष मिश्रा, सदन आर्य, पी.जे.शर्मा, विजय शुक्ला, जिला महामंत्री मनीष सिंह ठाकुर, भूरेलाल चौहान, कोआपरेटिव बैंक के पूर्व अध्यक्ष अषोक पानसे आदि मंचासीन थे।