BREAKING NEWS

लोकसभा में सांसद ने की चोपना पुर्नवास वासियों की वकालत

लोकसभा में सांसद ने की चोपना पुर्नवास वासियों की वकालत
बैतूल । बैतूल हरदा-हरसूद संसदीय क्षेत्र के सांसद डीडी उईके ने शुक्रवार को संसद में पुर्नवास क्षेत्र चोपना में निवासरत बंगाली परिवारों की विभिन्न समस्याओं का मुद्दा उठाते हुए उनके निराकरण की मांग की। सांसद ने सदन को अवगत कराया कि पुर्नवास क्षेत्र चोपना में रहने वाले सैकड़ों बंगाली परिवार आज भी जमीन के पट्टे एवं अपनी जाति के निर्धारण के लिए संघर्ष कर रहे है। परंतु शासन- प्रशासन स्तर पर अनेक बार पत्राचार करने के बाद भी उनकी समस्याओं का निराकरण नहीं हो पा रहा है। सांसद डीडी उईके ने लोकसभा सत्र के दौरान शुक्रवार को सदन में संसदीय क्षेत्र में निवासरत बंगालियों की समस्याओं का मुद्दा उठाते हुए सदन को अवगत कराया कि पाकिस्तान, बाग्लादेश, बर्मा के विभाजन के दौरान हजारों बंगालियों ने मप्र के बैतूल जिले में शरण ली थी। उन्होंने बताया कि वर्ष 1964 से 1988 के दौरान भारत सरकार ने विधानसभा घोड़ाडोंगरी के चोपना इलाके के वन क्षेत्र में बंगालियों के निवास के लिए जमीनें दी थी। परंतु आज भी सैकड़ों परिवार जमीन के पट्टे के लिए भटक रहे है। उन्होंने सदन को अवगत कराया कि उनके संसदीय क्षेत्र में लगभग ढाई लाख बंगाली निवासरत करते है। सांसद ने सदन से बंगालियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण की मांग की।