BREAKING NEWS

आयोडिन जागरूकता पर हुई कार्यशाला

आयोडिन जागरूकता पर हुई कार्यशाला
मुलताई। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बरखेड़ द्वारा मंगलवार गांव में आयोडिन जागरूकता कार्यशाला का आयोजन कर रैली के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया। इस दौरान आयोडिन अल्पता विकार निवारण पर कार्यशाला का आयोजन कर आयोडिन युक्त नमक का सेवन करने की शपथ भी ली गई। इस संबंध में डॉ.लच्छू नागले ने बताया कि मुलताई सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के एमओ डा.पल्लव अमृतफले के मार्गदर्शन में रैली एवं कार्यशाला का आयोजन किया गया। उन्होने बताया कि बिना आयोडिन युक्त नमक के सेवन से शरीर में विभिन्न विकार उत्पन्न होते हैं। आयोडिन में सूक्ष्म पोषक तत्व होते हैं जो मनुष्य के दिमाग के विकास में सहायक होते हैं। आयोडिन युक्त नमक का सेवन नही करने से शरीर में विभिन्न रोग हो जाते हैं जिससे शरीर को नुकसान होता है। आयोडिन का सेवन नही करने से बुद्धि का विकास कम होना, ज्ञान में पिछड़ जाना, शरीर में उर्जा का संचार नही होना, जन्म लेते ही शिशु की मृत्यु हो जाना, गर्भ में पल रहे शिशु के मस्तिष्क का कम विकास होना जैसे दुष्परिणाम सामने आ सकते हैं। बीईई चंद्रकला डोंगरे ने बताया कि आयोडिन युक्त नमक का उपयोग अत्यंत आवश्यक है। नमक को गीले हाथों से नही लेना चाहिए तथा सब्जी या दाल पूरी पक जाने के उपरांत ही नमक डालना चाहिए। नमक को खुला नही रखना चाहिए। इसके अलावा उपस्थित लोगों के सामने आयोडिन युक्त नमक लाकर व्यवहारिक तौर पर भी उसके उपयोग के बारे में विस्तार से बताया गया।