BREAKING NEWS

अब कोठीबाजार में पहुंचा कोरोना संक्रमण-सीमेंट रोड सील

अब कोठीबाजार में पहुंचा कोरोना संक्रमण-सीमेंट रोड सील
बैतूल। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने का सिलसिला लगातार जारी है जिससे जिले में कोरोना का ग्राफ बढ़कर 89 पर पहुंच गया। मंगलवार को शहर के प्रमुख व्यावसायिक क्षेत्र सीमेंट रोड के एक प्रमुख सराफा व्यावसायी के पुत्र का कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शहर में हड़कंप मच गया। इसके साथ ही जिले में मंगलवार को भौंरा निवासी कोरोना संक्रमित 90 वर्षीय वृद्धा के बेटा-बहु सहित तीन की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है वहीं कोल नगरी के शोभापुर में विगत 29 जून को परिणय बंधन में बंधी दुल्हन के भाई सहित एक अन्य की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से अभी तक कोरोना संक्रमित से अछूती कोलनगरी में भी कोरोना की एंट्री हो गई है। वहीं घोड़ाडोंगरी के पहाड़पुर में दिल्ली से आई एक महिला भी कोरोना संक्रमित पाई गई है। मंगलवार को सात मरीज मिलने के बाद जिले में कोरोना मीटर 89 पर पहुंच गया है। 54 लोगों के ठीक होने के बावजूद वर्तमान में 35 एक्टिव केस है। सीमेंट रोड कंटेनमेंट एरिया शहर के प्रमुख व्यवसायिक क्षेत्र सीमेंट रोड स्थित सराफा व्यावसायी के पुत्र की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सूत्रों के अनुसार सराफा व्यापारी का पुत्र लगभग एक सप्ताह पहले सूरत या पूना से वापस आया था। पांच दिन पूर्व युवक की तबीयत खराब होने पर वह चैकअप करवाने नागपुर भी गया था लेकिन वहां कोरोना के लक्षण दिखाई देने पर डॉक्टरों ने उपचार नहीं किया था। इसके बाद युवक ने जिला अस्पताल में जांच करवाई जहां मंगलवार शाम को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे जिला अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती किया गया है। सीमेंट रोड सील सीमेंट रोड के सराफ व्यवसायी के पुत्र की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद मंगलवार शाम को ही प्रशासन ने सीमेंट रोड क्षेत्र को सील कर दिया गया है। वहीं युवक के निवास दुर्गा मंदिर कोठीबाजार क्षेत्र को भी कंटेनमेंट एरिया बनाया गया है। संक्रमित मिले युवक के परिजनों का सेंपल भी लिया जाएगा। यदि इनमें से किसी कि रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो जिले में कोरोना बम फूट सकता है क्योंकि परिजन सराफा दुकान में बैठते है जहां प्रतिदिन सैकड़ों ग्राहकों से मिलने के साथ ही आधा दर्जन से अधिक कर्मचारियों से भी संपर्क होता था। 90 वर्षीय वृद्धा के बेटा- बहु भी कोरोना संक्रमित शाहपुर ब्लॉक के भौंरा में सोमवार को एक 90 वर्षीय महिला कोरोना संक्रमित मिली थी। वृद्धा को सर्दी, खांसी, बुखार होने पर परिजन रविवार सुबह शाहपुर अस्पताल लाए थे जहां उनका सेंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया था। सोमवार को वृद्धा की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उन्हें हमीदिया अस्पताल भोपाल रेफर किया गया था। वृद्धा की किसी प्रकार की कान्ट्रेक्ट हिस्ट्री और ट्रेवल हिस्ट्री नहीं थी वह घर पर ही रहती थी जिससे अनुमान लगाया जा रहा था कि वृद्धा के परिवार में कोई और भी कोरोना संक्रमित हो सकता है जिससे संपर्क में आने से वृद्धों को कोरोना संक्रमण हुआ हो। लेकिन अत्यधिक वृद्ध होने के कारण वृद्धा में पहले लक्षण दिखाई देने लगे हो। इसी के चलते स्वास्थ्य विभाग ने वृद्धा के परिवार के सभी लोगों के सेंपल कोरोना जांच के लिए भिजवाए थे। जिसमें मंगलवार सुबह उनके 40 वर्षीय पुत्र और 50 वर्षीय बहु की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं मंगलवार शाम को इसी परिवार की एक 38 वर्षीय महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद भौंरा में संक्रमित मरीज के निवास क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिया गया है। परिवार के अन्य लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है। कोरोना वार्ड में फिर एक संदिग्ध की मौत, निगेटिव आई रिपोर्ट जिला अस्पताल के समर्पित कोरोना हेल्थ सेंटर में भर्ती एक संदिग्ध मरीज की मौत से मंगलवार को हड़कंप मच गया। संदिग्ध वृद्धा को मंगलवार सुबह ही कोरोना वार्ड में भर्ती किया गया था। जहां उसका सेंपल लेने के बाद रिपोर्ट आने के पहले ही उसने दम तोड़ दिया। प्रशासन द्वारा जिला मुख्यालय पर ही उनके अंतिम संस्कार करने की तैयारी की जा रही थी इस बीच मृतक की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आ गई। इसके बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली है। मृतक की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। जिला अस्पताल में मंगलवार सुबह नकटीढाना झल्लार निवासी 70 वर्षीय वृद्धा को कोरोना वार्ड में भर्ती किया गया था। वृद्ध को शुगर की बीमारी होने के साथ ही सांस लेने में तकलीफ थी। मंगलवार सुबह वृद्धा का कोरोना टेस्ट के लिए सेंपल लिया गया था। लेकिन रिपोर्ट आने के पूर्व ही उसने दम तोड़ दिया। संदिग्ध मरीज की मौत से जिला अस्पताल में हड़कंच मच गया। स्वास्थ्य महकमा वृद्धा के अंतिम संस्कार की तैयारी करने लगा इस बीच उसकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई। जिससे प्रशासन ने राहत की सांस ली है। निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद वृद्धा का शव परिजनों को सौंप दिया गया। पहाड़पुर की संक्रमित महिला को लेने गए युवक नहीं थे क्वारेंटीन घोड़ाडोंगरी विकासखंड के पहाड़पुर निवासी नोएडा से लौटी एक महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। महिला 29 जून को दिल्ली से गोवा एक्सप्रेस से इटारसी तक आई थी। महिला के साथ उसका पति, 8 वर्षीय बेटी और गांव की ही 15 वर्षीय बालिका भी नोएडा से आई थी। पूरे परिवार को लेने दो युवक कार से इटारसी गए थे। इटारसी से आने के बाद नोएडा से आए परिवार को तो पहाड़पुर स्थित स्कूल में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया था। 4 जुलाई को सभी के सेंपल भेजे गए थे जिसमें से महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव निकलने के बाद उसे घोड़ाडोंगरी स्थित कोविड सेंटर में रखा गया है। बताया जा रहा है कि इस परिवार को लेने जो दो युवक कार से अए थे उनमें से एक की इलेक्ट्रानिक्स और एक की किराना दुकान है। नोएडा से आने वालों को तो क्वारेंटीन कर दिया गया लेकिन दोनों युवक अपनी-अपनी दुकाने चला रहे थे जिनके संपर्क में कई लोग आए थे। महिला के संक्रमित पाए जाने के बाद इन युवको के संपर्क में आए लोगों में भी दहशत है।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now