BREAKING NEWS

अस्पताल में गंदगी बर्दाश्त नहीं: कलेक्टर

अस्पताल में गंदगी बर्दाश्त नहीं: कलेक्टर
बैतूल। जिला अस्पताल में गंदगी बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बेहतर है कि अस्पताल को साफ सुथरा रखने के प्रयास किए जाए। अस्पताल में गंदगी बिल्कुल भी बर्दाश्त नहंी की जाएगी। यह बात गुरूवार को जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के उपरांत बैठक में कलेक्टर तेजस्वी एस नायक ने कही। कलेक्टर श्री नायक ने जिला अस्पताल परिसर में स्वच्छता बनाए रखने के लिए पूरी सजगता से कार्य करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि परिसर में कहीं भी अस्वच्छता नहीं दिखना चाहिए। स्वच्छता के कार्य में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। श्री नायक गुरूवार को जिला अस्पताल में आयोजित चिकित्सकों की साप्ताहिक बैठक को संबोधित कर रहे थे। प्रशिक्षण के लिए भेंजे कार्पोरेट अस्पताल बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जिला अस्पताल में उपलब्ध रिक्त स्थान का समुचित उपयोग किया जाए। इस दौरान उन्होंने क्लीनिकल प्रशिक्षण हेतु आने वाले नर्सिंग विद्यार्थियों की प्रशिक्षण व्यवस्था पर भी चर्चा की तथा इन विद्यार्थियों को बड़े शहरों के कार्पोरेट अस्पतालों में प्रबंधन का प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु भेजे जाने के संबंध में दिशा-निर्देश दिए। कलेक्टर ने प्रशिक्षणार्थी नर्सिंग छात्राओं द्वारा जिला चिकित्सालय में दी जाने वाली सेवाओं पर चर्चा करते हुये श्री नायक ने कहा कि जो प्रशिक्षणार्थी बेहतर कार्य करेंगे उनका चयन किया जाकर बेहतर प्रबंधन बनाने के प्रयास किये जायेंगे। नर्सिंग छात्राओं को बडे शहरों के कार्पोरेट हास्पिटल भ्रमण कराये जायेंगे जिसमे जिला चिकित्सालय से चिकित्सक भी सम्मिलित होंगे। सुलभ शौचालय के लिए करें स्थल चयनित मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि कलेक्टर द्वारा चिकित्सकों की बैठक ली गई। बैठक में श्री नायक ने निर्देशित किया कि नवीन ओपीडी का कार्य कमेटी के समन्वय से शीघ्र किया जाये एवं एस्टीमेट भोपाल भेजे जाने हेतु इंजीनियर संजय धुर्वे को निर्देशित किया। सुलभ शौचालय के लिये उचित स्थान का चयन कर कार्य प्रारंभ करें। धर्मशाला स्थल पर ट्रस्ट से समन्वय कर बेहतर उपयोग करें। जिला चिकित्सालय परिसर में उपयोग न किये जाने वाले स्थान का समुचित उपयोग किया जाये। एक्स-रे , सीटी स्केन आदि का स्थान निर्धारित कर शीघ्र व्यवस्थापित किया जाये। श्री नायक ने ऑपरेशन थियेटर की स्थिति की जानकारी लेते हुये एक सप्ताह में समीक्षा करने हेतु सिविल सर्जन डॉ. चौरसिया को निर्देशित किया। श्री नायक ने अस्पताल परिसर में स्वच्छता एवं साफ -सफ ाई रखने हेतु निर्देशित किया , उन्होंने कहा कि कचरे की स्थाई व्यवस्था निर्मित होनी चाहिये। दो स्थानों की जगह एक ही स्थान पर कचरा एकत्रीकरण कार्य प्रबंधन हेतु स्टुवर्ड को नगरपालिका के समन्वय से व्यवस्था बनाने हेतु निर्देशित किया। सफाई कर्मचारियों द्वारा किसी भी प्रकार की लापरवाही बरदाश्त नहीं की जायेगी। श्री नायक ने कायाकल्प अभियान के अंतर्गत बायोमेडिकल वेस्ट, सफाई व्यवस्था हेतु डॉ. प्रतिभा रघुवंशी स्त्री रोग चिकित्सक एवं डॉ. सोनल डागा, दंत चिकित्सक की संयुक्त टीम को आगामी कार्य हेतु निर्देशित किया। सफाई व्यवस्था में अस्पताल परिसर के अतिरिक्त अस्पताल आवास परिसर भी सम्मिलित रहेगा। फेसिलिटी ले आऊट की बनाए कार्ययोजना श्री नायक ने कहा कि कायाकल्प अभियान के अंतर्गत दृश्यात्मक परिवर्तन स्पष्ट दिखाई देने चाहिये। उन्होंने चिकित्सक द्वय को फेसिलिटी ले आउट की कार्ययोजना बनाने हेतु निर्देशित किया। श्री नायक ने सफाई कर्मचारी एवं सिक्यूरिटी गार्ड को बेहतर प्रशिक्षण प्रदाय करने के साथ साथ चिकित्सालय में बेरिकेट्स ,सिगनल्स, साइनेजेज एवं एक्सेस कंट्रोल पर भी चर्चा की। नवीन ओपीडी कमेटी में डॉ. ओ.पी. माहोर, चिकित्सा विशेषज्ञ, डॉ. डब्ल्यू.ए. नागले पैथोलॉजिस्ट एवं डॉ. रेणुका गोहिया, स्त्री रोग विशेषज्ञ सम्मिलित रहेंगे तथा अंडरग्राउण्ड सीटी स्केन कमेटी में डॉ. श्याम सोनी, डॉ. सौरभ राठौर एवं डॉ. सुरेन्द्र कुशवाह सम्मिलित रहेंगे।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now