BREAKING NEWS

कटकर खलिहान में रखी फसल बारिश ने भिगोई

कटकर खलिहान में रखी फसल बारिश ने भिगोई
मुलताई। नगर सहित क्षेत्र में एक बार फिर बारिश के कारण किसानों को परेशानी झेलना पड़ रहा है। बारिश के कारण फसल की दावन प्रभावित हो गई है वहीं दूसरी फसल के लिए खेत बनाने में किसानों को परेशानी हो रही है। फिलहाल तीन-चार दिन से फिर मौसम में भारी बदलाव हुआ है जिससे बादल बने हुए हैं एवं बारिश भी हो रही है ऐसी स्थिति में पूरे क्षेत्र में ठंड का असर भी बढ़ गया है। किसानों ने बताया कि फिलहाल सोयाबीन एवं मक्का की कटनी के बाद दावन का समय है जिससे कई जगह खेतों में तथा खलियान में फसल कट के रखी हुई है। फसल की दावन किसान कर ही रहे थे कि फिर बारिश प्रारंभ हो गई जिससे किसान दावन नही कर पा रहे हैं। नगर के किसान राजू पंवार ने बताया कि अतिवृष्टि से किसानों की फसल पहले ही तबाह हो गई है और जहां थोड़ी बहुत बची है वहां फिर बारिश ने पानी फेर दिया है जिससे किसानों को लगातार क्षति हो रही है। इधर सोयाबीन तथा मक्का की कटाई के बाद किसान दूसरी फसल के लिए खेत बनाने की तैयारी कर ही रहे थे कि बारिश होने से अब वह कार्य भी रोकना पड़ा है। किसानों के अनुसार इस वर्ष बारिश ने किसानों को पूरी तरह आर्थिक रूप से प्रभावित कर दिया है। पूर्व में जहां लगातार बारिश ने सोयाबीन एवं मक्का की फसल प्रभावित कर दी जिससे फसल जड़ से गल गई वहीं कीटों के प्रकोप से भी फसल को क्षति पहुंची है। इस स्थिति से किसान जैसे-तैसे उबर भी नही पाया था कि फिर बारिश ने किसान की कमर तोड़ दी है जिससे किसान परेशान हो गया है। दीपावली होगी प्रभावित इस वर्ष दीपावली त्योहार पर भी क्षेत्र में खराब हुई फसल का असर पडऩे की संभावना है। अतिवृष्टि से किसानों की फसल खराब हो गई है वहीं विगत कुछ दिनों से फिर बारिश ने किसानों को क्षति पहुंचाने की रही-सही कसर भी पूरी कर दी है जिससे किसान के हाथ में पैसा नही है। मुलताई क्षेत्र कृषि प्रधान क्षेत्र है तथा यहां कोई बड़े उद्योग एवं व्यवसाय नही होने से अधिकांश लोग खेती पर ही निर्भर है एैसी स्थिति में इस वर्ष अतिवृष्टि से दीपावली त्योहार भी प्रभावित हो सकता है। फिलहाल दीपावली को मात्र चार दिन शेष है लेकिन बाजार में अभी भी रौनक नही आई है जिससे व्यापारी वर्ग भी परेशान है। बढ़ेगी किसानों की परेशानी सोयाबीन एवं मक्का की फसल काटने के बाद जहां किसान तत्काल खेत बनाकर गेंहू एवं चना की फसल की बोवनी करता है वहीं इस वर्ष बारिश के कारण बोवनी प्रभावित हो गई है। किसानों के अनुसार अभी कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है तथा अभी भी बादल बने हुए हैं जिससे बारिश कब रूकेगी इसका कोई ठिकाना नही है। किसानों के अनुसार यदि बारिश नही रूकी तो गेंहू एवं चने की फसल प्रभावित हो जाएगी और यदि बोवनी में विलंब होता है तो इससे किसानों की परेशानी बढ़ सकती है। इधर लगातार हल्की बारिश हो रही है जिससे एैसा लग रहा है मानों दीपावली त्योहार भी बारिश के कारण प्रभावित हो सकता है।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now