BREAKING NEWS

कत्तलखाने महाराष्ट्र ले जाई जा रही तीन भैंसें की जब्त

कत्तलखाने महाराष्ट्र ले जाई जा रही तीन भैंसें की जब्त
मुलताई(बीजेडयून्यूज)। ग्राम बिरूल बाजार से पैदल तथा वाहनों से महाराष्ट्र की ओर वध के लिए मवेशियों को ले जाने का सिलसिला थम नही रहा है। कई बार पुलिस द्वारा पैदल तथा वाहनों में भरकर ले जाए जा रहे मवेशियों को पकड़कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई भी की गई लेकिन इसके बावजूद माफियाओं द्वारा मवेशियों की तस्करी बंद नही की जा रही है जिससे क्षेत्र के लोगों में रोष व्याप्त है। बुधवार रात्री बिरूल बाजार से महाराष्ट्र की ओर जा रही एक संदिग्ध पिकअप को पुलिस द्वारा पकड़ा गया जिसमें तीन भैंस थी। पूछताछ में भैंसों को ले जा रहे दो युवकों द्वारा संतोषप्रद जवाब नहीं देने से पुलिस द्वारा पिकअप जब्त कर दो आरोपियों पर प्रकरण दर्ज किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मासोद चौकी प्रभारी उत्तम मस्तकार , प्रधान आरक्षक गंभीरसिंह रघुवंशी, मनोज डेहरिया तथा अजय हातिय द्वारा गश्त के दौरान रायआमला के पास पिकअप क्रमांक एमपी 48 जी 2119 नजर आई जिसमें बैठे अनिल नागले निवासी रायआमला तथा शेख लतीफ प्रभात पट्टन से जब पूछताछ की गई तो उन्होने पुलिस को संतोषप्रद जवाब नही दिया गया। पुलिस के अनुसार पिकअप जब्त कर दोनों आरोपियों के खिलाफ पशु क्रुरता अधिनियम 1960 बी धारा 11 घवम प्र कृषक अधिनियम 1959 की धारा 4,6,11 के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को बैतूल न्यायालय में पेश किया गया है। फिलहाल तीनों भैसों को मासोद पंचायत के कांजी हाऊस में रखा गया है। लगातार हो रही गौवंश की तस्करी बिरूल बाजार में बैल बाजार पर प्रतिबंध होने के बावजूद लगातार गौवंश की तस्करी जारी है जिससे कई बार गंभीर विवाद भी हो चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद माफिया सक्रिय बने हुए हैं। पूर्व में गौवंश की तस्करी को लेकर ही बिरूल बाजार में बड़ा विवाद हो चुका है जिससे गांव की जहां शांति भंग हुई वहीं पूरे जिले की पुलिस को बिरूल बाजार जाकर स्थिति संभालना पड़ा। बिरूल बाजार से महाराष्ट्र के कुछ माफियाओं द्वारा प्रभात पट्टन एवं बिरूल बाजार सहित रायआमला के दलालों से मिलीभगत करके वर्षों से पशुओं की तस्करी की जा रही है। कभी पैदल मार्ग से तो कभी चौपहिया वाहनों से बिरूल बाजार से मासोद मार्ग होते हुए महाराष्ट्र सीमा तक मवेशियों को पहुंचाया जाता है। बताया जा रहा है कि प्रतिबंध के बावजूद पशुओं की तस्करी बदस्तूर जारी है।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now