BREAKING NEWS

कोरोना को लेकर सतर्कता बरत रहा स्वास्थ्य महकमा

कोरोना को लेकर सतर्कता बरत रहा स्वास्थ्य महकमा
मुलताई। विकासखंड अभी तक कोरोना संक्रमण से बचा हुआ है जिसका पूरा श्रेय स्वास्थ्य विभाग के उन अधिकारियों को जाता है जो सतत रूप से ग्रामीण अंचलों का दौरा कर मानिटरिंग कर रहे हैं। स्वास्थ्य टीम की नजरों से कोई भी बाहर से आने वाला व्यक्ति बच नही सकता एवं बिना जांच के कोई रह नही सकता। एक ओर जहां मुलताई से मात्र 15-15 किलोमीटर दूर प्रभात पट्टन, मासोद सहित खेड़ली बाजार में कोरोना पाजेटिव मिल चुके हैं वहीं मुलताई ब्लाक इसके बावजूद अभी तक कोरोना संक्रमण से अछूता है जिसके पीछे स्वास्थ्य विभाग की मेहनत है। हालांकि मुलताई सहित पूरे ब्लाक में रेड जोन एरिया से बड़ी संख्या में लोग पहुंचे हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग की लगातार मानिटरिंग एवं तत्काल उन्हे क्वारंटीन करने से संक्रमण फैल नही सका यही कारण है कि क्षेत्र में हजारों लोग मुंबई, इंदौर एवं गुजरात से आने के बावजूद संक्रमण नियंत्रण में है। पूरे मामले में बीएमओ उदयप्रताप सिंह तोमर सहित डा. पल्लव अमृतफले बीईई चंद्रकला डोंगरे की टीम द्वारा पूरी सूझबूझ एवं दूरदर्शिता से कोरोना संक्रमण फैल नही पाया है। प्रतिदिन टीम द्वारा किया जा रहा गांवों का दौरा बीएमओ उदयप्रतापसिंह तोमर ने बताया कि संक्रमण को रोकने के लिए सतत गांवों में जाकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है वहां की व्यवस्था देखी जा रही है तथा बाहर से आने वाले लोगों की जांच कर उन्हे क्वारंटीन किया जा रहा है। उन्होने बताया कि मंगलवार उनके द्वारा बांडियाखापा, साबड़ी तथा बरखेड़ गांव का दौरा किया गया तथा व्यवस्थाएं देखी गई। उन्होने बताया कि ग्रामीणों में भी धीरे धीरे जागरूकता आ रही है तथा वे भी अब नियमों का पालन कर बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी तत्काल स्वास्थ्य विभाग को दे रहे हैं जिनके सहयोग से ही संक्रमण अभी तक नियंत्रण में है। अभी तक भिजवाए जा चुके 50 संदिग्धों के सेंपल लाक डाऊन के बाद से विगत दो माह में अभी तक मुलताई क्षेत्र से 50 संदिग्धों के सेंपल जांच के लिए भेजे जा चुके हैं लेकिन यह क्षेत्र की उपलब्धी रही है कि अभी तक कोई भी प्रकरण पाजेटिव नही निकला है। फिलहाल मुलताई क्षेत्र से 11 सेंपल की रिपोर्ट आन बाकि है। आसपास के क्षेत्र की स्थिति पर गौर करें तो अभी भी रेड जोन से लोगों का क्षेत्र में आना चालू है इसलिए 11 सेंपल में से कोई भी रिपोर्ट पाजेटिव हो सकती है लेकिन यदि उक्त रिपोर्ट नेगेटिव होती है तो यह क्षेत्र के लिए यह एक उपलब्धि ही होगी। 100 लोग अभी भी होम क्वारेंटीन मुलताई के स्वास्थ्य अमले के अनुसार पूरे क्षेत्र में अभी लगभग 100 लोग होम क्वारंटीन हैं। संदिग्धों के आधार पर संस्थागत क्वारंटीन भी किया जा रहा है लेकिन जहां पर्याप्त जगह है वहां होम क्वारंटीन को ही प्रमुखता दी जा रही है। बीएमओ तोमर के अनुसार बाहर से आए लोगों की स्क्रीनिंग कर तत्काल क्वारंटीन कराया जा रहा है वहीं हल्की सर्दी, खांसी का तुरंत उपचार किया जा रहा है इसके बावजूद यदि संक्रमण के कोई लक्षण नजर आते हैं तो एैसे संदिग्धों का तत्काल सेंपल लेकर जांच के लिए भेजा जाता है। फिलहाल दो दिन पूर्व मुंबई एवं इंदौर से नगर में आए लोगों का सेंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया है। इनका कहना... पूरे क्षेत्र का दौरा कर मानीटरिंग की जा रही है इसलिए कोई भी बाहर का व्यक्ति स्वास्थ्य टीम की निगाह से बच नहीं सकता। ग्रामीणों को लगातार संक्रमण के खिलाफ जागरूक किया जा रहा है। साथ ही संदिग्धों को क्वारेंटाइन करके उनका सेंपल जांच के लिए भेजा जा रहा है। डॉ.उदय प्रताप सिंह तोमर बीएमओ, मुलताई।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now