BREAKING NEWS

कोविड-19 महामारी के दौरान बुजुर्गों हेतु स्वास्थ्य सलाह

कोविड-19 महामारी के दौरान बुजुर्गों हेतु स्वास्थ्य सलाह
बैतूल। कोविड-19 महामारी के दौरान बुजुर्गों हेतु स्वास्थ्य सलाह जारी की गई है। वैश्विक स्तर पर कोविड-19 नेे जन-जीवन को प्रभावित किया है तथा इसकी व्यापकता में निरंतर फैलाव देखा जा रहा है । भारत सरकार ने कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाये हैं, जिसमें राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन शामिल है। हम सभी के लिए यह आवश्यक है कि प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आवश्यक प्रबंध व सुरक्षा बरतें ताकि बीमारी के फैलाव को रोका जा सकें। अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता तथा शारीरिक सीमाओं के चलते बुजुर्ग लोग कोविड-19 के प्रति उच्च जोखिम रखते हैं। साथ ही बुजुर्गों में पहले से ही कुछ बीमारियों जैसे डायबिटीज (मधुमेह) उच्च रक्तचाप , गुर्दे की बीमारी तथा सीओपीडी (फेफड़ों की बीमारी) उन्हें इस संक्रमण के प्रति और भी ज्यादा संवेदनशील बनाती है। इसके साथ साथ संक्रमण बुजगों में अत्यधिक गंभीर हो सकता है, जिससे उनकी मृत्यु होने की भी आशंकाएँ बढ़ जाती हैं। यद्यपि निम्न उपाय करते हुये बुजुर्ग जनसंख्या में कोविड-19 के संक्रमण को रोका जा सकता है । यह करें- 1. घर में ही रहें। घर आने वाले आंगतुकों से न मिले। यदि मिलना अति आवश्यक हो तो उनसे कम से कम एक मीटर की दूरी बनाये रखें। 2. नियमित अंतराल में साबुन व पानी से अपने हाथों और चेहरे को धोते रहें। 3. छींकते व खांसते समय अपनी कोहनी के बीच तक नाक, मुँह ले जाएँ अथवा रुमाल, टिश्यू पेपर से नाक, मुंह दबाकर छींके व खांसे। छींकने व खांसने के उपरांत टिश्यू पेपर को बंद डस्टबिन या कंटेनर में फेंक दे व रुमाल धो लें। 4. घर में पकाया हुआ ताजा गर्म भोजन लेते हुए सही पोषण सुनिश्चित करें । बार बार पानी पिऐं और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिये ताजें फलों का रस (जूस) पिऐं। 5. व्यायाम व ध्यान करें। 6. अपने चिकित्सक द्वारा परामर्श दी गई दवाइयों को नियमित रूप से लेते रहें। 7. अपने परिवारजनों (जो आपके साथ नहीं रहते हैं) रिश्तेदारों, मित्रों से फोन पर या वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बातचीत करें, इस हेतु आवश्यकता होने पर अपने परिवार के सदस्यों से मदद लें। 8. यदि पहले से आपकी शल्य क्रिया निर्धारित की गयी हो तो उसे अभी टाल दें, जैसे मोतियाबिंद का ऑपेरशन , घुटने बदलने का ऑपरेशन , इत्यादि। 9. जिन स्थानों पर बार-बार हाथ लगता है उन्हें नि:संक्रमण तत्वों से समय-समय पर साफ करते रहें। 10. अपने स्वास्थ्य पर निगरानी रखें यदि आपको बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ महसूस होती है, तो तुरंत ही अपने निकट के स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर चिकित्सक से संपर्क करें और उनके द्वारा दी गयी चिकित्सकीय सलाह का पालन करें। 11. मधुमेह, हृदय और श्वसन रोगों से पीडि़त वृद्ध लोगों से 1 से 2 मीटर की दूरी बनाए रखें। 12. घर में खाली समय का उपयोग संरचनात्मक व मनोरंजक गतिविधियों में शामिल होकर करें । यह ना करें- 1. बिना रुमाल व टिश्यू पेपर लिए खाली हाथों पर न छींके और न ही खाँसे , साथ ही अपने चेहरे को भी बिना ढके छींकना व खाँसना नहीं है। 2. यदि आपको बुखार व खांसी है तो निकटजनों से दूर रहें। 3. अपनी आंखें, चेहरा, नाक एवं जीभ को न छुएं। 4. संक्रमित व बीमार लोगों के करीब न जाएँ। 5. बिना चिकित्सकीय सलाह के स्वयं से दवा न लें। 6. अपने मित्रों एवं निकटजनों से हाथ न मिलाएँ और उन्हें गले भी न लगाए। 7. अपनी नियमित जाँचों एवं फॉलोअप के लिए अस्पताल न जाएँ। अपने चिकित्सक से यथासंभव फोन पर परामर्श लें। 8. भीड़भाड़ वाले स्थानों जैसे पार्क, बाजार और धार्मिक स्थानों पर न जाएं। 9. अकारण बाहर न निकलें। इन सभी बातों का कड़ाई से पालन करना जरूरी है ।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now