BREAKING NEWS

खराब फसलों को लेकर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन

खराब फसलों को लेकर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन
मुलताई। क्षेत्र में अतिवृष्टि से खराब हुई फसलों के मुआवजे को लेकर अब किसान सड़कों पर आ गए हैं तथा लगातार मुआवजे की मांग की जा रही है ताकि किसानों को आर्थिक तौर पर राहत मिल सकें। सोमवार मुलताई में किसान संघर्ष समिति तो प्रभात पट्टन में कांग्रेस के नेतृत्व में किसानों ने प्रदर्शन किया तथा मुख्यमंत्री के वादे के अनुसार 40 हजार रूपए हेक्टेयर मुआवजे की मांग संबंधित अधिकारियों को ज्ञापन देकर की गई। मुलताई में किसान संघर्ष समिति द्वारा विभिन्न मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन सौंपा गया जिसमें प्राकृतिक आपदा से खराब हुई फसलों का सर्वे कर तत्काल मुआवजा देने की मांग की गई। किसान संघर्ष समिति के भागवत परिहार, जियालाल परिहार, अवधेश दोड़के, मारोती खवसे, प्रेमचंद सर्रा, तिरथ सिंह बाड़ेगांव, चैनसिंह कान्हाबघोली, कृपाल सिंह, लक्ष्मण बोरबन परमंडल तथा विनोदी महाजन परमंडल सहित बड़ी संख्या में किसान पूरे क्षेत्र से एकत्रित होकर तहसील कार्यालय पहुंचे जहां अधिकारियों को किसानों की समस्याओं से अवगत कराते हुए 10 बिन्दुओं पर ध्यान देकर समस्याएं हल करने की गुहार लगाई गई। किसानों ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा किसान तथा किसानी को बर्बाद किया जा रहा है। एक तरफ मंडी व्यवस्था न्यूनतम समर्थन मूल्य पर देने की व्यवस्था खत्म कर दी गई है वहीं बिजली कंपनी द्वारा किसानों से बिलों के नाम पर लूट की जा रही है। किसानों ने कहा प्राकृतिक आपदा के कारण एक तरफ जहां किसान बर्बादी की कगार पर है वहीं सरकार द्वारा किसानों की समस्याओं को नजरअंदाज किया जा रहा है। विपदा की इस घड़ी में सरकार द्वारा किसानों से सुहानभूति पूर्ण रवैया अपनाकर उसकी समस्या को हल करते हुए तत्काल मुआवजा देना चाहिए। पट्टन में किसानों ने सड़कों पर उतरकर की नारेबाजी खराब फसलों के मुआवजे को लेकर प्रभात पट्टन में कांग्रेस द्वारा व्यापक प्रदर्शन किया गया तथा मुख्यमंत्री के आश्वासन के अनुसार 40 हजार रूपए हेक्टेयर मुआवजे की मांग की गई। प्रभात पट्टन ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष विजय देशमुख, विजय शिवारे, मिश्रीलाल, सचिन लिखितकर सहित बड़ी संख्या में पूरे क्षेत्र के किसान सोमवार प्रभात पट्टन पहुंचे जहां मुख्य मार्ग पर नारेबाजी करते हुए खराब फसलें सड़क पर फेंककर प्रदर्शन किया गया। ब्लाक अध्यक्ष देशमुख ने कहा कि पिछले वर्ष स्वयं मुख्यमंत्री ने किसानों की ओर से 40 हजार रूपए हेक्टेयर की मांग कांग्रेस सरकार से की गई थी। वर्तमान में मुख्यमंत्री उतना ही मुआवजा खराब हुई फसल का किसानों को दें। किसानों ने कहा कि प्रभात पट्टन क्षेत्र में बड़े पैमाने पर सोयाबिन, मक्का एवं सब्जियों में पत्तागोभी, टमाटर तथा मिर्ची की खेती होती है लेकिन लगातार वर्षा से किसानों की फसलें खराब हो चुकी है जिससे किसान आर्थिक रूप से प्रभावित हो चुका है इसलिए मुख्यमंत्री किसानों का दर्द समझकर तत्काल उनकी आर्थिक सहायता करें। मुख्य मार्ग पर बैठकर किया प्रदर्शन प्रभात पट्टन क्षेत्र के किसानों द्वारा खराब फसलों के मुआवजे के लिए मुख्य मार्ग पर धरना देकर संबन्धित अधिकारी को मौके पर बुलाया गया। किसानों द्वारा मुख्य मार्ग पर धरना देने से आवागमन भी प्रभावित हुआ। बताया जा रहा है कि फसलों के सर्वे में विलंब तथा मुआवजा नही मिलने से किसानों ने पूर्व में ही 14 सितंबर को प्रदर्शन का ऐलान किया गया था जिसके बाद प्रभात पट्टन में बड़ी संख्या में किसानों ने पहुंचकर व्यापक प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेसी झंडे एवं खराब फसलों को लेकर पूरे गांव में घूमे तथा जमकर नारेबाजी भी की।

Betul News Copyright © 2021. All Rights Reserved

Chat Now