BREAKING NEWS

जिला प्रशासन ने दी धार्मिक प्रतिष्ठान-पूजा स्थल-शॉपिंग मॉल-होटल खोलने की अनुमति

जिला प्रशासन ने दी धार्मिक प्रतिष्ठान-पूजा स्थल-शॉपिंग मॉल-होटल खोलने की अनुमति
बैतूल। वैश्विक महमारी कोरोना वायरस कोविड-19 की वजह से देश में लगाए गए लॉकडाऊन की वजह से बंद किए गए धार्मिक प्रतिष्ठान, पूजा स्थल, होटल, शॉपिंग माल सहित अन्य अतिथि इकाईयों को जिला प्रशासन ने 8 जून से संचालन की अनुमति दे दी है। जिला प्रशासन द्वारा दी गई संचालन की अनुमति में सशर्त 30 बिंदुओं का पालन करना अनिवार्य होगा। इसमें मंदिरों में ना तो मूर्तियों को स्पर्श किया जाएगा और ना ही मस्जिद में वजू होगा। इतना ही नहीं मंदिरों में घंटी नहीं बजेगी और मस्जिदों में जानमाज नहीं बिछाई जाएगी। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और सावधानियाँ बरतने के निर्देश के आदेश ही यह छूट दी गई है। मंदिर-मस्जिद में यह रहेगा प्रतिबंध जिला प्रशासन द्वारा दी गई अनुमति में मंदिरों में मूर्ति स्पर्श, घंटी बजाना, प्रसाद, चरणामृत, छिड़काव, आरती की थाली में कैश चढ़ावा, चुनरी, अगरबत्ती, रैलिंग स्पर्श आदि प्रतिबंधित रहेगा। इसी के साथ मस्जिद में वजू प्रतिबंधित रहेगा। वजू घर से ही करके आना होगा। प्रार्थना, नमाज के लिए मस्जिद में जा नमाज नहीं बिछाई जाएगी। श्रद्धालु अपनी मेट, कपड़ा स्वयं लाए और नमाज के बाद वापस घर ले जाए। लंगर, रसोई में डिस्टेंसिंग जरूरी है। पूर्व केबीनेट मंत्री... कि कोरोना को लेकर प्रदेश सरकार की गलत नीतियों एवं निर्णयों से जहां प्रदेश में संक्रमण तेजी से फैल रहा है वहीं अर्थव्यवस्था बुरी तरह चौपट हो गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने गलत तरह से कांग्रेस की सरकार गिराई है। जिसका जवाब आगामी उपचुनावों में 22 विस क्षेत्र की जनता भाजपा नेताओं से मांगेगी। पूर्व केबीनेट मंत्री श्री पांसे ने बताया कि तात्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ की जनकल्याणकारी नीतियों से प्रदेश की जनता खुश थी। इसलिए आगामी उपचुनाव में जनता भाजपा को सबक सिखायेगी।

Betul News Copyright © 2021. All Rights Reserved

Chat Now