BREAKING NEWS

दानदाताओं के सहयोग से रसोई में पहुंची सवा दो क्विंटल खाद्य सामग्री

दानदाताओं के सहयोग से रसोई में पहुंची सवा दो क्विंटल खाद्य सामग्री
बैतूल। लॉकडाउन में गरीब परिवारों को भोजन कराने के लिए लगातार समाजसेवी आगे आ रहे हैं। समाजसेवियों की एक ही मंशा है कि कोई भी जरूरतमंद भूखा न रहे। कोरोना की इस जंग में म.प्र डिप्लोमा इंजीनियर एशोसिएशन भी कर्मवीर योद्धा बनकर सामने आया है। शुक्रवार एसोसिएशन के सदस्यों ने गरीबों जरूरतमंदों के भोजन के लिए दीनदयाल रसोई को दो क्विंटल खाद्यान्न सामग्री प्रदान की। इसके अलावा समाजसेवी मूलचंद यादव ने भी 25 किलो आटा दीनदयाल रसोई में पहुंचाया। इन समाजसेवियों का कहना है कि नर सेवा ही नारायण सेवा है। क्योकि नर सेवा को ही नारायण सेवा कहा गया है। हमारी मंशा भी यही है कि सुबह भूखे पेट लोग उठे जरूर, लेकिन रात में सोए कोई नहीं। डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन के सदस्यों ने दीनदयाल रसोई में गरीबों जरूरतमंदों की सहायतार्थ 1 क्विंटल आटा एवं 1 क्विंटल चावल दान किया। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन 3 मई तक जारी रहने वाला है। ऐसे में दीनदयाल रसोई के कर्मवीर योद्धा बिना थके, बिना रूके लगातार जरूरतमंद की मदद करने में जीजान से जुटे है। दीनदयाल रसोई प्रतिदिन हजारों भोजन पैकेट का निर्माण कर मेहनतकश गरीबों तक पहुंचा रही है। जिससे हजारों भूखे पेट को अन्न नसीब हो रहा है। सेवा कार्य की दिशा में डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन ने भी आगे आकर सहयोग करने का निर्णय लिया। एसोसिएशन ने समस्त पदाधिकारियों की सर्वसम्मति एवं आपसी सहयोग के माध्यम से खाद्य सामग्री खरीद कर दीनदयाल रसोई को देने का निर्णय लिया ताकि इस वैश्विक आपदा से निपटने में डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन की भी भूमिका रहे। इधर दीनदयाल रसोई समिति का कहना है कोरोना के खिलाफ इस जंग में समाजसेवी भी कर्मवीर योद्धा की भूमिका निभा रहे हैं जिससे यह अभियान लगातार जारी है। शहर के समाजसेवियों में उत्साह इतना है कि एक अपील पर पूरे शहर ने गरीबों को भोजन कराने के लिए दीनदयाल रसोई में सहयोग राशि व खाद्य सामग्री एकत्रित करना शुरू कर दिया।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now