BREAKING NEWS

मंडी में पास बनवाने घंटो कतार में लगे किसान

मंडी में पास बनवाने घंटो कतार में लगे किसान
बैतूल (कृष्णकांत आर्य)। देश में चल रहे लॉक डाउन के दौरान किसानों की परेशानी को देखते हुए कलेक्टर राकेश सिंह द्वारा बैतूल और मुलताई मंडी में सशर्त उपज नीलामी की अनुमति दी थी। जिसमें बैतूल मंडी में प्रतिदिन 150 किसानों को उपज बेचने की अनुमति दी गई थी। लेकिन शुक्रवार को कृषि उपज मंडी बडोरा में लगभग तीन सौ किसान ट्रैक्टर-ट्राली में उपज लेकर पहुंचे जिससे मंडी में पास बनवाने किसानों की कतार लग गई। किसानों के पास बनवाने एक ही काउंटर था दोगुने किसानों के पहुंचने से किसानों को एंट्री पास बनवाने घंटों लाइन में लगना पड़ा हालांकि किसानों की भीड़ देखते हुए मंडी प्रबंधन ने किसानों की ट्राली तो अंदर करवा ली थी लेकिन गेट पास बनवाने किसानों को कतार में लगना पड़ा। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी राकेश सिंह द्वारा 15 अपै्रल से जिले की बैतूल और मुलताई मंडी में किसानों को उपज बेचने की सशर्त अनुमति दी थी। जिसमें मंडी परिसर में सोशल डिस्टेंस मास्क, सेनेटाइजर का उपयोग करते हुए बैतूल मंडी में प्रतिदिन 100 ट्राली और मुलताई मंडी में 25 ट्राली उपज खरीदने की अनुमति दी थी। शुक्रवार को दोगुनी हुई आवक बैतूल मंडी में शुक्रवार को अचानक आवक बढ़ गई। लगभग 3 सौ ट्राली उपज लेकर किसान आ गए। जिससे किसानों को वापस करने के बजाए मंडी प्रबंधन ने सभी किसानों की ट्राली मंडी परिसर में खड़ी करवा दी। किसानों को गेट पास बनवाने कतार लगा दी। मंडी परिसर में कलेक्टर द्वारा सौ ट्राली प्रतिदिन के हिसाब से खरीदी करने की अनुमति दी थी। जिसके हिसाब से प्रतिदिन सुबह 6 बजे से 10 बजे तक पास बनवाने एक काउंटर ही पर्याप्त था। लेकिन शुक्रवार को लगभग तीन सौ किसान उपज लेकर पहुंचे बावजूद इसके मंडी प्रबंधन ने गेट पास बनवाने काउंटर नहीं बढ़ाए जिससे किसानों को गेट पास बनवाने लंबा इंतजार करना पड़ा। 11,863 बोरे की हुई आवक शुक्रवार को मंडी में आम दिनों की उपेक्षा लगभग दोगुनी आवक हुई। 5 मई को मंडी में कुल 6385 बोरे की आवक हुई वहीं 6 मई को 7005 बोरे की आवक हुई। 7 मई को बुद्ध पूर्णिमा का अवकाश था। जिससे मंडी बंद थी। शुक्रवार को मंडी में 11 हजार 863 बोरे उपज की आवक हुई। जिसमें 3583 बोरे गेहूं, 6929 बोरे मक्का, 851 बोरे सोयाबीन और 302 बोरा चना की आवक हुई। अचानक आवक बढऩे से मंडी में अव्यवस्था हो गई और किसानों को कतार लगाना पड़ा। जिम्मेदार बोले मंडी में किसानों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पूर्व में कलेक्टर द्वारा 100 ट्राली प्रतिदिन की अनुमति दी थी लेकिन आवक बढऩे से हमने मौखिक अनुमति ली है। शुक्रवार को लगभग 300 ट्राली की आवक हुई है। जिसके चलते किसानों को कतार में लगना पड़ा। हम सोमवार से व्यवस्था बनाएंगे। हेमराज लोखण्डे मंडी निरीक्षक कृषि उपज मंडी, बैतूल

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now