BREAKING NEWS

मांगों से संबंधित लघुवेतन कर्मचारियों ने सौंपा ज्ञापन

मांगों से संबंधित लघुवेतन कर्मचारियों ने सौंपा ज्ञापन
बैतल। मध्यप्रदेश लघु वेतन कर्मचारी संघ के प्रांतीय आहवान पर जिला इकाई द्वारा विभिन्न मांगों के संबंध में छ:चरणों में आंदोलन किया जा रहा है। द्वितीय चरण में शनिवार 2 नवबंर को सभी तहसील, ब्लॉक के पदाधिकारियों ने उपस्थित रहकर अपनी विभिन्न मांगो के संबंध में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। संघ के जिलाध्यक्ष नारायण नागले ने जानकारी देते हुए बताया कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ द्वारा 13 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। श्री नागले ने बताया कि शासन प्रशासन द्वारा कर्मचारी संघ की मांगों पर विचार नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण चरणबद्ध आंदोलन का निर्णय लिया गया है। ज्ञापन सौंपने वालों में प्रमुख रूप से दिनेश सूर्यवंशी, रविन्द्र पाटिल, प्रकाश, दिनेश उईके, भैयालाल अहाके, मुन्नालाल नागपुरे, संजय, गुणवंत गाडग़े, परसराम अड़लक, देवशंकर कापसे, शेख शमीम, पंजाब उच्चसरे, हेमराज पाठेकर, बद्रीप्रसाद राठौर, कोमल परमार, राजकुमार मालवीय, आशाराम पोटफोड़े, दिनेश बर्डे, राजेन्द्र चढ़ोकार, दौलत माथनकर, फूलवंती उईके, अनिता उईके सहित भीमपुर ब्लाक के रसोईया उपस्थित रहे। यह है प्रमुख मांग प्रदेश में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी वृत्तिकर से मुक्त रखे, भृत्य का पदनाम परिवर्तन कर कार्यालय सहायक, भृत्य, चौकीदार सहित सभी संवर्ग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को ग्रेड-पे में संशोधन, 1300 के स्थान पर 1800 रूपए दिया जाए, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की सेवानिवृत्त आयु में दो वर्ष की वृद्धि कर 64 वर्ष की जाए, आकस्मिक एवं कार्यभारित सेवा के कर्मचारी प्रदेश के विभिन्न विभागों में लगभग 42 हजार कार्य कर रहे है लेकिन सेवा निवृत्त के उपरांत अवकाश नगदीकरण का लाभ नहीं दिया जा रहा है। नियमित सेवा के कर्मचारियों की भांति इनको भी अवकाश नगदीकरण का लाभ दिया जाए, प्रदेश में कार्यरत स्थायी कर्मियों को सातवें वेतनमान का लाभ दिये जाने हेतु वचन पत्र में उल्लेख किया गया है। समय-समय पर कर्मचारियों के हित में शासन द्वारा जो भी आदेश जारी हो स्थाई कर्मचारियों को भी उसका लाभ दिया जाए आदि मांगे शामिल है। तृतीय चरण में निकालेंगे मन्नत यात्रा तृतीय चरण 15 नवंबर को जिलाध्यक्ष एवं संभागीय अध्यक्ष द्वारा मुख्यालय पर मन्नत यात्रा निकालकर भगवान के चरणों में ज्ञापन एवं मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, मंत्री सामान्य प्रशासन विभाग, वित्त मंत्री एवं प्रमुख सचिव को भेजा जाएगा। चतुर्थ चरण 23 नवंबर को प्रदेश के समस्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी आकस्मिक कार्यभारित सेवा के कर्मचारी - सफाईकर्मी, अंशकालीन भृत्य, ऑगनवाड़ी कार्यकर्ता, साहयिका, मिनी ऑगनवाड़ी कार्यकर्ता, ग्राम रक्षक कोटवार, मिड डे मिल शासकीय रसोईया, अध्यक्ष एवं सचिव आशा एवं उषा कार्यकर्ता, आशा सहयोगी एवं संविदा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, चतुर्थ श्रेणी अल्प-वेतन भोगी संवर्ग के सभी कर्मचारी अपने मांगों के समर्थन में भोपाल में आमसभा एवं मुख्यमंत्री को ज्ञापन, पांचवा चरण 13 दिसबंर को सांसद, विधायक को ज्ञापन, छठवा चरण 17 फरवरी 2020 को मांगों के निराकरण नहीं होने पर प्रदेश व्यापी जंगी प्रदर्शन, आंदोलन एवं माह अप्रैल-2020 से अनिश्चितकालीन हड़ताल की जाएगी।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now