BREAKING NEWS

विधायक निलय डागा किसानों एवं क्षेत्रवासियों की खुशहाली के लिए मां ताप्ती को भेंट करेंगे चुनरी

विधायक निलय डागा किसानों एवं क्षेत्रवासियों की खुशहाली के लिए मां ताप्ती को भेंट करेंगे चुनरी
बैतूल। विगत 3 वर्ष पूर्व विधायक निलय डागा ने किसानों एवं क्षेत्रवासियों की खुशहाली के लिए मां ताप्ती चुनरी पदयात्रा की शुरुआत की थी। इस वर्ष विधायक निलय डागा के पिताजी एवं जिले के लोकप्रिय पूर्व विधायक विनोद डागा का निधन होने के चलते मां ताप्ती चुनरी पद यात्रा में शामिल होने वाले हजारों श्रद्धालुओं में असमंजस की स्थिति है। इस संबंध में विधायक निलय डागा ने बताया कि वह अपना संकल्प नहीं भूले हैं। प्रति वर्ष अनुसार इस वर्ष भी वह किसानों एवं क्षेत्रवासियों की खुशहाली के लिए मां ताप्ती को चुनरी भेंट करेंगे। कोरोना गाइडलाइन को दृष्टिगत रखते हुए चुनरी यात्रा वाहन से निकाली जाएगी। कार्यक्रम का स्वरूप भव्य नहीं रहेगा। बिना गाजे-बाजे के साथ सादगी पूर्ण तरीके से यह यात्रा जिला मुख्यालय से रवाना होगी। अपना संकल्प को यथावत रखते हुए श्री डागा सांकेतिक रूप से 5 कदम चल चुनरी वाहन में रख देंगे। सुबह 7 बजे लल्ली चौक स्थित प्राचीन शिव मंदिर में पूजा अर्चना कर यात्रा को रवाना किया जाएगा। वाहनों के काफिले के साथ चुनरी यात्रा थाना रोड, कोठी बाजार, टिकारी, कारगिल चौक होते हुए प्रस्थान करेगी। बता दें कि 4 वर्ष पूर्व शुरू की गई चुनरी यात्रा का स्वरूप हर वर्ष भव्य होता जा रहा है। प्रतिवर्ष मां ताप्ती चुनरी पद यात्रा को लेकर हजारों श्रद्धालुओं में खासा उत्साह रहता था। यह चुनरी यात्रा बैतूल से लेकर ताप्ती तक पहुंचती थी। इस यात्रा पर जहां लोगों द्वारा स्नेह के फूल बरसाए जाते थे तो किसी के द्वारा अपने लाडले विधायक का मुंह मीठा कराया जाता था। इतना ही नहीं विगत वर्षों में चुनरी यात्रा का जगह-जगह भव्य स्वागत भी किया गया। प्रतिवर्ष इस यात्रा का स्वरूप भव्य होता जा रहा है। धर्ममय हो जाता है वातावरण चुनरी यात्रा निकालने जाने से समूचे बैतूल शहर से लेकर पुण्य सलीला सूर्य पुत्री माँ ताप्ती के तट पर समूचा वातावरण और जिला धर्ममय हो जाता है। हजारों श्रद्धालु इस यात्रा में सहभागी बनते हैं। जिले की खुशहाली और प्रगति के लिए प्रति वर्ष चुनरी यात्रा बैतूल से ताप्ती तक निकाली जाती है ताकि बैतूल जिले में खुशहाली बनी रहे। अपने माँ पिता का आशीर्वाद लेकर विधायक निलय डागा चुनरी यात्रा का शुभारंभ कर ताप्ती तट तक पहुंचते थे, जहां विशाल जनसमूह के बीच माता को चुनरी चढ़ाई जाती थी। इस वर्ष पूर्व विधायक विनोद डागा का निधन होने से हजारों श्रद्धालुओं में निराशा है, फिर भी विधायक श्री डागा ने अपने संकल्प को पूरा करते हुए चुनरी भेंट करने का निर्णय लिया है।

Betul News Copyright © 2021. All Rights Reserved

Chat Now