BREAKING NEWS

साप्ताहिक बाजार में महाराष्ट्र से सब्जी सहित आ रहे व्यापारी

साप्ताहिक बाजार में महाराष्ट्र से सब्जी सहित आ रहे व्यापारी
मुलताई। नगर में प्रति सप्ताह गुरूवार एवं रविवार बड़ा बाजार लगता है जिसमें मुलताई क्षेत्र सहित महाराष्ट्र के बड़ी संख्या में व्यापारी आ रहे हैं। महाराष्ट्र से आ रहे व्यापारियों का कोई स्वास्थ्य परीक्षण नही हो रहा है और ना ही प्रशासन द्वारा कोई सतर्कता बरती जा रही है जिससे लापरवाही महंगी पड़ सकती है। गुरूवार भी साप्ताहिक बाजार में बड़ी संख्या में महाराष्ट्र से व्यापारियों ने आकर व्यवसाय किया, बताया जा रहा है कि प्रति गुरूवार महाराष्ट्र के वरूड़, नरखेड़, काटोल सहित अन्य स्थानों से लगभग 150 से 200 व्यापारी आते हैं। एक तरफ जहां महाराष्ट्र में कोरोना को लेकर प्रशासन पूरी तरह अलर्ट है वहीं नगर में प्रशासन द्वारा कोई विशेष सतर्कता नही बरती जा रही है जिससे महाराष्ट्र की ओर से बड़ी संख्या में व्यापारी आकर धंधा करके वापस जा रहे हैं एैसे में कभी भी स्थिति गंभीर हो सकती है। एक तरफ प्रशासन द्वारा जहां कोरोना को लेकर सतर्कता के दावे किए जा रहे हैं वहीं नगर में लगने वाले हाट बाजारों को लेकर प्रशासन गंभीर नजर नही आ रहा। मुलताई महाराष्ट्र सीमा पर बसा होने के कारण मुलताई एवं नागपूर के व्यापारियों का लगातार आवागमन बना रहता है। नगर का अधिकांश व्यवसाय महाराष्ट्र पर निर्भर है एैसी स्थिति में प्रशासन को व्यापारियों के स्वास्थ्य की जांच आवश्यक रूप से करना चाहिए ताकि स्थिति नियंत्रण में रह सके। साप्ताहिक बाजार में महाराष्ट्र से आए व्यापारियों ने बताया कि वे जिस पूर्व में धंधा करने आते थे उसी तरह अभी भी आ रहे हैं उनके स्वास्थ्य की जांच किसी भी तरह जांच नही की गई है। नगर में साप्ताहिक बाजार सहित प्रतिदिन नागपुर से सब्जियां आ रही है तथा इधर के व्यापारियों द्वारा नागपूर जाकर भी सब्जियां लाई जा रही है। इसके अलावा वरूड़ महाराष्ट्र से भी किसान सब्जियां लेकर मुलताई मंडी में लाकर बेचते हैं। ऐसी स्थिति में भी व्यापारियों के स्वास्थ्य की जांच नही की जा रही है। इसके अलावा अन्य व्यवसायों से भी व्यापारियों के प्रतिनिधि प्रतिदिन मुलताई आ रहे हैं लेकिन इसकी जानकारी प्रशासन द्वारा नही ली गई है। हालांकि एसडीएम द्वारा नगर के होटल एवं लाज संचालकों को नोटिस जारी कर के आगामी 31 मार्च तक बाहरी व्यक्ति को रूकने की मनाही की गई है लेकिन इसके बावजूद बड़ी संख्या में नागपुर के व्यापारी सुबह आकर शाम तक वापस भी हो जाते हैं। साप्ताहिक बाजार में महाराष्ट्र से लाई जा रही दूषित खाद्य सामग्री खुलेआम बेची जा रही है लेकिन ऐसे व्यापारियों पर कार्रवाई तो दूर दूषित खाद्य सामग्री की जांच भी नही हो रही है। साप्ताहिक बाजार में एक तरफ जहां बासी मिठाईयां बिक रही है वहीं सड़े-गले फल एवं सब्जियां भी बेचे जा रहे हैं जिससे लोगों के स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव पड़ सकता है। साप्ताहिक बाजार में जगह-जगह गंदगी पसरी हुई है जिसके पास बैठकर किसान भी सब्जियां बेच रहे हैं। पूरे मामले में जब एसडीएम सीएल चनाप से चर्चा की गई तो उन्होने बताया कि गुरूवार तो प्रशासन द्वारा किसी प्रकार की कोई जांच नही की गई लेकिन आने वाले साप्ताहिक बाजार के दिन नगर पालिका टीम सहित स्वास्थ्य टीम को अलर्ट किया जाएगा। उन्होने बताया कि इसके लिए वे तत्काल नगर पालिका एवं स्वास्थ्य विभाग को पत्र जारी कर रहे हैं ताकि रविवार साप्ताहिक बाजार के दिन बाहर से आने वाले व्यापारियों एवं किसानों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा सके।

Betul News Copyright © 2020. All Rights Reserved

Chat Now