BREAKING NEWS

हरदौली योजना की पाईप लाईन फिटिंग शुरू

हरदौली योजना की पाईप लाईन फिटिंग शुरू
मुलताई। वर्षों से लंबित नगर की पेयजल समस्या को हल करने वाली हरदौली जलावर्धन योजना में जलाशय के लगभग पूर्ण होने के बाद दूसरे घटक अंतर्गत पाईप लाईन फिटिंग का कार्य प्रारंभ हो गया है। उक्ताशय की जानकारी देते हुए प्रभारी सीएमओ आर सी गव्हाड़े ने बताया कि दूसरे घटक के अंतर्गत ठेकेदार द्वारा एक दिन पूर्व से ही पाईप लाईन फिटिंग का कार्य प्रारंभ किया है, इसके अलावा 2 पेयजल टंकी का निर्माण हो चुका है तथा फिल्टर प्लांट का कार्य भी पूर्ण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अनुमानित तौर पर लगभग एक वर्ष में दूसरे घटक का कार्य पूर्ण होगा लेकिन फिलहाल 8 माह की समय सीमा निर्धारित की गई है जिसके तहत प्रयास किया जाएगा कि कार्य आठ माह में पूर्ण हो। पूर्व ठेकेदार द्वारा पाईप लाईन का अधूरा कार्य किया गया था जिसके बाद अब नये सिरे से पाईप लाईन फिटिंग का कार्य किया जा रहा है जिससे भविष्य में नगरवासियों को ग्रीष्मकाल में भी जल संकट से जूझना नही पड़ेगा। उन्होने बताया कि इस ग्रीष्म काल में हालांकि योजना का कार्य पूर्ण नही होगा लेकिन कोशिश यह की जाएगी कि पुरानी पाईप लाईन से फिटिंग कर नगरवासियों को हरदौली जलाशय का पानी उपलब्ध कराया जाए। गौरतलब है कि पुरानी परिषद के कार्यकाल में जल आवर्धन योजना का कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया था लेकिन परिषद की उदासीनता एवं ठेकेदार की लापरवाही से पांच वर्षों में भी जलावर्धन योजना पूर्ण नहीं हो सकी। इसके उपरांत जलाशय निर्माण करने वाले ठेकेदार को हटाकर नगर पालिका द्वारा दूसरे ठेकेदार से कार्य कराया जा रहा है। यही हाल जलावर्धन योजना के दूसरे घटक का भी रहा जिसमें पूर्व पाईप फिटिंग के ठेकेदार द्वारा अधूरी पाईप लाईन फिटिंग की गई थी जो लंबे समय बाद फिर से लगाई जा रही है। लंबे समय से हो रहा योजना पूर्ण होने इंतजार हरदौली जलावर्धन योजना नगर की पेयजल समस्या को दूर करने के लिए बनाई गई है लेकिन शुरू से ही योजना में लगातार व्यवधान आते रहे हैं जिससे योजना पूर्ण होने का नाम नही ले रही है। हर वर्ष योजना पूर्ण होने का नगरवासियों को इंतजार रहता है ताकि ग्रीष्मकाल में पानी की किल्लत ना हो लेकिन दिन पर दिन योजना में विलंब ही होता जा रहा है जिससे नागरिकों में रोष व्याप्त है। नागरिकों के अनुसार वर्षों से योजना का कार्य चल रहा है लेकिन योजना पूर्ण नही हो रही है जिससे ग्रीष्मकाल में पानी की समस्या से जूझना पड़ता है। पेजयल का स्थाई स्त्रोत नही होने से ग्रीष्मकाल में जहां चार से पांच दिन के अंतराल में जल प्रदाय किया जाता है वहीं बारिश में भी इस वर्ष तीन दिन के अंतराल में जलप्रदाय किया गया। फिलहाल जल प्रदाय की स्थिति संतोषप्रद नहीं है जिसमें दो दिनों के अंतराल में मात्र 40 मिनट ही जल प्रदाय किया जा रहा है। जलावर्धन योजना के अंतर्गत ग्राम हरदौली में जलाशय पूर्ण होने पर नगरवासियों को यह संभावना लग रही थी कि इस वर्ष उन्हे जल संकट से नही जूझना पड़ेगा। लेकिन दूसरे घटक के कार्य पूर्ण होने में अभी एक वर्ष और लग सकता है इसलिए लोगों की उम्मीदों पर पानी फिर गया है। इस वर्ष ग्रीष्मकाल में फिर लोगों को वही जल संकट से रूबरू होना पड़ेगा तथा पानी के लिए त्राहि-त्राहि मचेगी। योजना में विलंब होने से विशेष तौर पर महिलाओं में खासा रोष देखा जा रहा है वहीं नगर पालिका द्वारा इस ग्रीष्म काल में जल संकट पर कुछ हद तक काबू करने का दावा किया जा रहा है।

Betul News Copyright © 2021. All Rights Reserved

Chat Now